विकृत किए गए इतिहास के पुनर्लेखन की जरुरत- खर्रा

  • last month
नगरीय विकास मंत्री झाबर सिंह खर्रा ने कहा कि युवा पीढ़ी को पुरातन इतिहास के वैभवशाली तथ्यों से जब तक अवगत नहीं कराएंगे तब तक उनमें राष्ट्र प्रेम व राष्ट्र भक्तों व राष्ट्र के प्रति श्रद्धा का भाव पैदा नहीं होगा। इसलिए विकृत किए गए इतिहास को दोबारा लिखकर मातृशक्ति व वरिष्ठजन के जरिए भावी पीढ़ी को बताने की जरूरत है। वह शनिवार को महाराणा प्रताप जयंती की पूर्व संध्या पर पुष्कर घाटी स्थित महाराणा प्रताप स्मारक पर आयोजित कार्यक्रम के बाद पत्रकारों से मुखातिब थे। उन्होंने कहा कि देश में वर्षों से इतिहास को लेकर संघर्ष होता रहा। चहेते इतिहासकारों के माध्यम से राष्ट्र को ताेड़ने का प्रयास किया गया। इतिहास को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया। इसकी वजह से युवा पीढ़ी देश के वैभवशाली इतिहास व महान लोगों के बलिदान को नहीं जान सकी।

Recommended